प्रोजेक्ट मैनेजमेंट – पार्ट 2

बात पंद्रह साल पुरानी है ! मै नॉएडा आ चूका था ! शिक्षक बन चूका था ! तब हमारे हेड होते थे - कर्नल गुरुराज ! देश के सबसे बेहतरीन रीजनल कॉलेज 'त्रिची' से पास ! छोटा कद और बेहद कड़क ! तब वो कॉलेज के वाईस प्रिंसिपल भी थे ! जिस दिन ज्वाइन करना … Continue reading प्रोजेक्ट मैनेजमेंट – पार्ट 2

प्रोजेक्ट मैनेजमेंट – पार्ट 1

ठीक पंद्रह साल पहले की बात है ! इसी जून के महीने एक शाम प्रमोद महाजन दिल्ली एअरपोर्ट पर ए पी जे अब्दुल कलाम का हाथ पकडे बाहर की तरफ निकल रहे थे ! भावी राष्ट्रपति की घोषणा होने वाली थी ! मुर्ख मिडिया ने अब्दुल कलाम साहब पर सवालों के गोले दागने शुरू कर … Continue reading प्रोजेक्ट मैनेजमेंट – पार्ट 1

इंस्टैंट मुहब्बत …

InstantMuhabbat नॉएडा के , सेक्टर अठारह के , एचएसबीसी बैंक ब्रांच में उस रोज - झुकी पलकों को आहिस्ता से उठा , अपने गेशुओं को एक तरफ़ शाने पर रख , वो एक हमउम्र जब पाँच क़दम चल कर, मुझ अनजान तक पहुँच , कहती है - 'एक्सक्यूज मी , पेन प्लीज़' । सेकेंड के … Continue reading इंस्टैंट मुहब्बत …

ब्लैकबेरी

सहरा की भिंगी रेत पर , मैंने लिखा आवारगी~ मोहसिन की बेहतरीन पोएट्री ।तस्वीर इसी मौसम और शायद इसी महीने की है , वर्ष था 2012 . सात साल पहले की है । शनिवार का दिन था और कॉलेज से हाफ डे के बाद मुझे अपने कॉलेज के दिनों के दोस्तों से मिलने जाना था … Continue reading ब्लैकबेरी

छोटे व्यापार और मिडिल क्लास

नया नया नोएडा गया था तो सोसायटी के गेट पर ही एक सब्जी विक्रेता थे । पटना के ही थे सो उन्ही के यहां से सब्जी आता था । सुबह सुबह वो अपना दुकान लगा लेते । सेक्टर 62 नोएडा के सोसायटी पब्लिक सेक्टर कंपनी के थे । मदर डेयरी का बूथ नहीं आया था … Continue reading छोटे व्यापार और मिडिल क्लास