कहानी साइकिल की …

कहानी साइकिल की : ब्रांड रेलेे 😊कोई राजा हो या रंक - हमारे समाज में उसकी पहली सवारी साइकिल ही होती है और साइकिल के प्रति उसका प्रेम आजीवन रहता है - भले ही वो चढ़े या नहीं चढ़े ।अगर आप अपने बचपन को याद करें तो बड़े बुजुर्ग ब्रांड रेलेे की बात करते थे … Continue reading कहानी साइकिल की …

मेरा गांव – मेरा देस – मेरा होली

छठ / होली में जो अपने गाँव - घर नहीं गया - वो अब 'पूर्वी / बिहारी' नहीं रहा ! मुजफ्फरपुर / पटना में रहते थे तो हम लोग भी अपने गाँव जाते थे - बस से , फिर जीप से , फिर कार से ! जैसे जैसे सुख सुविधा बढ़ने लगा - गाँव जाना … Continue reading मेरा गांव – मेरा देस – मेरा होली

श्री बाबू : बिहार के प्रथम प्रधानमंत्री

#SriBabuआज बिहार के प्रथम प्रधानमंत्री एवम मुख्यमंत्री श्री बाबु की पुण्य तिथि है । मेरे ननिहाल क्षेत्र 'बरबीघा' / पुराना मुंगेर के रहने वाले थे । मेरे ननिहाल का नाम 'तेउस' है और उनके गाँव का नाम 'माऊर' है ...:))जब तक दिल्ली रहा - वहाँ के बिहारी समाज द्वारा जब जब उनके जन्मदिवस या पुण्यतिथि … Continue reading श्री बाबू : बिहार के प्रथम प्रधानमंत्री